उत्तराखंड: तबादला आदेश नहीं मानने पर रेशम निरीक्षक निलंबित, उप निदेशक को सौंपी गई मामले की जांच

0
0
उत्तराखंड: तबादला आदेश नहीं मानने पर रेशम निरीक्षक निलंबित, उप निदेशक को सौंपी गई मामले की जांच


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Published by: रेनू सकलानी
Updated Tue, 12 Apr 2022 11:57 AM IST

सार

21 जनवरी 2022 को रेशम निरीक्षक सुभाष डंडरियाल का तबादला देहरादून के राजकीय रेशम फार्म नया गांव से राजकीय रेशम फार्म गुवानी जिला पिथौरागढ़ किया गया लेकिन निरीक्षक ने नई तैनाती स्थल पर कार्यभार ग्रहण नहीं किया।

ख़बर सुनें

रेशम विभाग की ओर से जारी तबादला आदेश का पालन न करने पर निरीक्षक सुभाष डंडरियाल को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही मामले की जांच उप निदेशक प्रदीप कुमार को सौंपी गई है। इस संबंध में निदेशक रेशम एसके यादव ने आदेश जारी किए हैं। 

21 जनवरी 2022 को रेशम निरीक्षक सुभाष डंडरियाल का तबादला देहरादून के राजकीय रेशम फार्म नया गांव से राजकीय रेशम फार्म गुवानी जिला पिथौरागढ़ किया गया लेकिन निरीक्षक ने नई तैनाती स्थल पर कार्यभार ग्रहण नहीं किया। विभागीय आदेशों का पालन न करने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें निलंबित किया गया है।

ये भी पढ़ें…यमुना के बहाव के बीच आंसुओं का सैलाब: हजारों घरों को रौशन करने के लिए जलमग्न हुआ उत्तराखंड का लोहारी गांव, तस्वीरों में देखिए

रेशम निरीक्षक को निलंबन अवधि में सहायक निदेशक कार्यालय अल्मोड़ा से संबद्ध किया गया है। साथ ही मामले की जांच उप निदेशक प्रदीप कुमार को सौंपी गई है। जो प्रकरण की जांच कर दो माह के भीतर रिपोर्ट सौंपेंगे। निदेशक रेशम एके यादव का कहना है कि विभागीय आदेश का पालन न करने पर रेशम निरीक्षक के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए निलंबित किया गया है।

विस्तार

रेशम विभाग की ओर से जारी तबादला आदेश का पालन न करने पर निरीक्षक सुभाष डंडरियाल को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही मामले की जांच उप निदेशक प्रदीप कुमार को सौंपी गई है। इस संबंध में निदेशक रेशम एसके यादव ने आदेश जारी किए हैं। 

21 जनवरी 2022 को रेशम निरीक्षक सुभाष डंडरियाल का तबादला देहरादून के राजकीय रेशम फार्म नया गांव से राजकीय रेशम फार्म गुवानी जिला पिथौरागढ़ किया गया लेकिन निरीक्षक ने नई तैनाती स्थल पर कार्यभार ग्रहण नहीं किया। विभागीय आदेशों का पालन न करने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें निलंबित किया गया है।

ये भी पढ़ें…यमुना के बहाव के बीच आंसुओं का सैलाब: हजारों घरों को रौशन करने के लिए जलमग्न हुआ उत्तराखंड का लोहारी गांव, तस्वीरों में देखिए

रेशम निरीक्षक को निलंबन अवधि में सहायक निदेशक कार्यालय अल्मोड़ा से संबद्ध किया गया है। साथ ही मामले की जांच उप निदेशक प्रदीप कुमार को सौंपी गई है। जो प्रकरण की जांच कर दो माह के भीतर रिपोर्ट सौंपेंगे। निदेशक रेशम एके यादव का कहना है कि विभागीय आदेश का पालन न करने पर रेशम निरीक्षक के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए निलंबित किया गया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here