12th board exam started | शुरू हुईं 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, सबसे पहले लिया गया एमसीक्यू बेस्ड एंटरप्रेन्योरशिप का पहला टेस्ट

0
61

12th board exam started, शुरू हुईं 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, सबसे पहले लिया गया एमसीक्यू बेस्ड एंटरप्रेन्योरशिप का पहला टेस्ट

सीबीएसई 12वीं बोर्ड के माइनर विषयों की परीक्षा 16 नवंबर से शुरू हो गई है। मंगलवार को 12वीं कक्षा की एंटरप्रेन्योरशिप और ब्यूटी तथा वेलनेस विषय की परीक्षाएं ली गई। यह परीक्षा सुबह 11 बजकर 30 मिनट पर शुरू हुई और से दोपहर 1 बजकर 30 मिनट पर समाप्त हुई। वहीं 10वीं कक्षा के लिए माइनर विषयों की परीक्षा बुधवार 17 नवंबर से शुरू होंगी।

सीबीएसई बोर्ड की यह परीक्षाएं केवल ऑफलाइन मोड में आयोजित की जा रही हैं। इन परीक्षाओं में ओआरएम शीट का इस्तेमाल किया जा रहा है। सीबीएसई के मुताबिक इस बार बोर्ड परीक्षा के छात्रों को 20 मिनट का रीडिंग टाइम दिया गया है। शुरू हो चुकी पहले चरण की बोर्ड परीक्षाओं में बहुविकल्पीय वस्तुनिष्ठ प्रश्न (एमसीक्यू) पूछे जा रहे हैं।

सीबीएसई ने सभी स्कूलों एवं परीक्षा केंद्र के लिए नोटिस जारी करते हुए स्पष्ट किया है कि प्रत्येक परीक्षा केंद्र में कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाना अनिवार्य है। मंगलवार को आयोजित की गई परीक्षा के दौरान एवं अन्य परीक्षाओं में भी सभी छात्रों शिक्षकों एवं अन्य स्टाफ को फेस मास्क लगाने के निर्देश दिए गए। छात्रों को परीक्षा से एक घंटा पहले परीक्षा केंद्रों पर पहुंचने को कहा गया था।

मंगलवार को आयोजित परीक्षा में प्रत्येक प्रश्न के उत्तर के लिए चार विकल्प दिए गए। छात्रों को इनमें से सही विकल्प चुनकर दिए गए विकल्प के सामने गोला लगाना था। छात्र किसी प्रश्न का उत्तर न देना चाहे तो उसके लिए भी गोला लगाना आवश्यक होगा। उत्तर न देने का भी विकल्प दिया जा रहा है।

12वीं कक्षा की छात्रा राखी अग्रवाल ने कहा कि सीबीएसई द्वारा इस प्रकार दो चरणों में परीक्षाएं लिया जाना छात्रों के लिए पहले के मुकाबले अधिक सुविधाजनक है। दो चरणों में परीक्षा ले जाने के साथ ही सीबीएसई बोर्ड ने पूरे साल के सिलेबस को भी 50- 50 प्रतिशत के दो हिस्सों में बांट दिया है। पहले हिस्से के सिलेबस के लिए परीक्षाएं अभी आयोजित की जा रही हैं। वहीं दूसरे शेष 50 फीसदी सिलेबस की परीक्षाएं अगले वर्ष मार्च-अप्रैल में आयोजित की जाएंगी।

बारहवीं कक्षा के ही एक अन्य छात्र अंकित शुक्ला का कहना है कि दो हिस्सों में परीक्षाएं लिए जाना और पहले चरण की परीक्षाओं को माइनर और मेजर सब्जेक्ट में बांट देना छात्रों के लिए बेहतर है। ऐसा किए जाने से छात्रों को अपनी तैयारी के लिए और अधिक समय मिल गया है।

पश्चिमी दिल्ली स्थित एक प्राईवेट स्कूल की प्रिंसिपल हर्षिता अरोड़ा ने कहा कि फिलहाल अभी केवल माइनर विषयों की परीक्षा शुरू हुई है। मुख्य विषय जैसे गणित इंग्लिश विज्ञान सामाजिक विज्ञान हिंदी कॉमर्स साइंस आदि की परीक्षाएं 1 दिसंबर से ली जाएगी। प्रोफेशनल, साइड सब्जेक्ट्स व फिजिकल एक्टिविटी आदि सब्जेक्ट को माइनर विषयों में शामिल किया गया है।

परीक्षा के दौरान छात्र कोरोना संक्रमित न हो इसकी भी विशेष व्यवस्था की गई है। सीबीएसई के मुताबिक सभी परीक्षा केंद्रों में कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाएगा। एक केंद्र में ज्यादा से ज्यादा 350 छात्र ही परीक्षा दे सकते हैं। छात्रों के बीच छह फीट की दूरी रखी जाएगी। परीक्षा केंद्र में प्रत्येक छात्र व मौजूद शिक्षक को अनिवार्य तौर पर मास्क पहनना होगा।

सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं कक्षा के पहले चरण की बोर्ड परीक्षा की जो डेट शीट जारी की है, उसके मुताबिक माइनर परीक्षा 16 व 17 नवंबर से शुरू हो रही हैं। वहीं मेजर विषयों की बारहवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा 1 दिसंबर से शुरू होगी और 22 दिसंबर को समाप्त होगी।

बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए पहली परीक्षा समाजशास्त्र और अंतिम परीक्षा गृह विज्ञान है। यह परीक्षाएं सुबह 11 बजकर 30 मिनट से दोपहर 1 बजे तक होंगी। दसवीं कक्षा की मेजर विषयों की बोर्ड परीक्षाओं का पहला चरण 30 नवंबर से शुरू होंगी और यह परीक्षाएं 11 दिसंबर को समाप्त होंगी। दसवीं कक्षा के लिए पहली परीक्षा सामाजिक विज्ञान और अंतिम परीक्षा अंग्रेजी की आयोजित की जाएगी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here