Ajab Gajab | This text message being auctioned at a price of Rs 2 crore, know reason | 2 करोड़ रुपए की कीमत में नीलाम हो रहा ये टेक्सट मैसेज, जानें क्या है कारण

0
25
Ajab Gajab | This text message being auctioned at a price of Rs 2 crore, know reason | 2 करोड़ रुपए की कीमत में नीलाम हो रहा ये टेक्सट मैसेज, जानें क्या है कारण

बीते समय में हमें एक दूसरे से बात करने के लिए पत्र या चिट्ठी का सहारा लेना पड़ता था। जिसमें काफी समय लग जाता था, लेकिन वर्तमान में सिर्फ कुछ ही सेकंड में मैसेज दुनिया के किसी भी कोने में पहुंच जाता है। इस मैसेज के लिए आपको अधिक रुपय खर्च करने की जरूरत नहीं होती, लेकिन आपसे कहा जाए कि एक मैसेज की कीमत करीब 2 करोड़ रुपए तक हो सकती है।

शायद आप भी ऐसी बात सुनकर हैरान होंगे और आपके मन में यह प्रश्न उठेगा कि आखिर इस मैसेज में ऐसा क्या होगा? तो आपको बता दें कि, यह एक सामान्य मैसेज ही है लेकिन यह दुनिया का पहला मैसेज था। जिसे हाल ही में नीलाम किया जा रहा है और इसलिए इसकी कीमत इतनी अधिक है।

जानिए दुनिया के सबसे महंगे मसाले का नाम, कीमत जानकर रह जाएंगे हैरान 

दुनिया का पहला टेक्सट मैसेज वोडाफोन के ब्रिटिश प्रोगामर नील पापवोर्थ ने अपने सहकर्माी रिचर्ड जारविस को भेजा था। ब्रिटिश प्रोगामर नील पापवोर्थ ने यह मैसेज 29 साल पहले 3 दिसंबर 1992 को भेजा था। नील पापवोर्थ ने रिचर्ड को ये मैसेज ऑर्बिटल 901 हैंडसेट पर भेजा था। जिसमें उन्होंने अपने सहकर्मी को टेक्सट मैसेज करते हुए क्रिसमस की शुभकामनाएं दी थीं।

हाल ही में ब्रिटेन स्थित वोडाफोन कंपनी ने जानकारी दी है कि अब दु्निया के पहले टेक्सट मैसेज की नीलामी होने जा रही है। आप को जानकर हैरानी होगी की इस टेक्सट मैसेज के लिए 1 करोड़ 71 लाख तक की बोली लगाई जा सकती है।

नील पापवोर्थ ने साल 2017 में एक कार्यक्रम के दौरान इसके बारे में कहा था कि जब उन्होंने इस एसएमएस को भेजा था तब ये नहीं सोचा था कि ये इतना फेमस हो जाएगा। उन्होंने बच्चों को जानकारी दी थी कि उन्होंने दुनिया का पहला एसएमएस भेजा था।

कंपनी की तरफ से कहा गया है कि नीलामी से जो भी कमाई होगी उसको यूएनएचसीआर-यूएन रिफ्यूजी एजेंसी को दे दिया जाएगा। सबसे बड़ी बात यह है कि साल 1992 में पहला एसएमएस भेजा गया था। साल 1995 तक सिर्फ 0.4 प्रतिशत लोग ही औसतन हर महीने एसएमएस भेजते थे।

वैज्ञानिकों ने खोजा दुनिया का सबसे ज्यादा पैरों वाला जीव, पाताल में रहता है 200 फिट अंदर

लेकिन अब तो लोग ज्यादातर बात एसएमएस पर भी कर लेते हैं, क्योंकि लोगों के पास इस भागदौड़ भरी जिंदगी में एक दूसरे से मिलने का समय कम ही मिलता है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here