PM Modi Visit in Dehradun | पीएम मोदी ने साधा निशाना, कहा- जो देश भर में बिखर रहे, वो उत्तराखंड को निखार नहीं सकते

0
20
PM Modi Visit in Dehradun | पीएम मोदी ने साधा निशाना, कहा- जो देश भर में बिखर रहे, वो उत्तराखंड को निखार नहीं सकते

सार

PM Modi Visit in Dehradun: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस का नाम लिए बगैर निशाना साधा कि 10 साल देश में ऐसी सरकार रही जिसके समय में इंफ्रास्ट्रक्चर के नाम पर घोटाले और घपले हुए।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परोक्ष रूप से विपक्षी दलों विशेषकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जो देश भर में बिखर रहे, वो उत्तराखंड को निखार नहीं सकते। ऐसा कहकर उन्होंने देश भर में बिखर रहे यूपीए के गठबंधन सहयोगियों की ओर इशारा किया।

प्रधानमंत्री एक लाइन में गहरी चोट कर गए। उनका इशारा कांग्रेस की ओर था, जिसने 2014 से पूर्व विभिन्न राजनीतिक दलों का कुनबा जोड़कर केंद्र सत्ता बनाई थी। लेकिन केंद्र में सत्ता परिवर्तन के बाद अब दलों को जोड़ने की यह कवायद लगातार नाकाम हो रही है। पिछले दिनों टीएमसी प्रमुख ममता बैनर्जी ने यूपीए के अस्तित्व पर सवाल उठा दिए थे। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि पीएम मोदी ने दरअसल, भाजपा के खिलाफ तैयार किए जा रहे वैकल्पिक गठबंधन और यूपीए के बिखराव की ओर इशारा किया।

चुनाव 2022: उत्तराखंड को 18 हजार करोड़ की सौगात, पीएम मोदी बोले- अब यहां बह रही विकास की गंगा

उनका आशय राष्ट्रीय राजनीति यूपीए के बिखराव की ओर था। कांग्रेस राज्य में सरकार बनाने के लिए विधानसभा चुनाव में उतरी है। मोदी ने एक तरह से कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए कहा कि जो देश में बिखर रहे, वो उत्तराखंड को नहीं निखार सकते।

भरपाई के लिए दोगुनी गति से मेहनत कर रहे हैं
प्रधानमंत्री ने कटाक्ष किया कि पूर्व सरकार में जो नुकसान हुआ उसकी भरपाई के लिए हमने दोगुनी गति से मेहनत की और आज भी कर रहे हैं। आज भारत, आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 100 लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश के इरादे से आगे बढ़ रहा है, आज भारत की नीति, गतिशक्ति की है, दोगुनी-तीन गुनी तेजी से काम करने की है।

उत्तराखंड का बहुमूल्य समय व्यर्थ किया  
उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार में देश और उत्तराखंड का 10 साल का बहुमूल्य समय व्यर्थ हुआ। तब परियोजनाएं सालों-साल अटकी रहती थीं। बगैर  तैयारी के फीता काट देने वाले तौर-तरीके थे। इन सबको पीछे छोड़ा गया। आज भारत नव-निर्माण में जुटा है।

उन्होंने कहा कि 21वीं सदी के इस कालखंड में, भारत में कनेक्टिविटी का एक ऐसा महायज्ञ चल रहा है, जो भविष्य के भारत को विकसित देशों की श्रृंखला में लाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा। इस महायज्ञ का ही एक यज्ञ आज यहां देवभूमि में हो रहा है।

हर लक्ष्य को हासिल कर सकता है उत्तराखंड
प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले पांच वर्ष उत्तराखंड को रजत जयंती की तरफ ले जाने वाले हैं। ऐसा कोई लक्ष्य नहीं जो उत्तराखंड हासिल नहीं कर सकता। ऐसा कोई संकल्प नहीं जो इस देवभूमि में सिद्ध नहीं हो सकता।

उत्तराखंड के भविष्य के लिए धामी का युवा नेतृत्व और अनुभवी टीम समर्पित
उन्होंने कहा कि आपके पास धामी जी के रूप में युवा नेतृत्व भी है। उनकी अनुभवी टीम भी है। वरिष्ठ नेताओं की बहुत बड़ी श्रृंखला है। 30-30 साल, 40-40 साल अनुभव से निकले हुए नेताओं की टीम है जो उत्तराखंड के उज्जवल भविष्य के लिए समर्पित है।

आपके आशीर्वाद से डबल इंजन विकास करता रहेगा
प्रधानमंत्री ने जनसभा में कहा कि आपके आशीर्वाद से विकास का ये डबल इंजन उत्तराखंड का तेज विकास करता रहेगा।

विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परोक्ष रूप से विपक्षी दलों विशेषकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जो देश भर में बिखर रहे, वो उत्तराखंड को निखार नहीं सकते। ऐसा कहकर उन्होंने देश भर में बिखर रहे यूपीए के गठबंधन सहयोगियों की ओर इशारा किया।

प्रधानमंत्री एक लाइन में गहरी चोट कर गए। उनका इशारा कांग्रेस की ओर था, जिसने 2014 से पूर्व विभिन्न राजनीतिक दलों का कुनबा जोड़कर केंद्र सत्ता बनाई थी। लेकिन केंद्र में सत्ता परिवर्तन के बाद अब दलों को जोड़ने की यह कवायद लगातार नाकाम हो रही है। पिछले दिनों टीएमसी प्रमुख ममता बैनर्जी ने यूपीए के अस्तित्व पर सवाल उठा दिए थे। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि पीएम मोदी ने दरअसल, भाजपा के खिलाफ तैयार किए जा रहे वैकल्पिक गठबंधन और यूपीए के बिखराव की ओर इशारा किया।

उनका आशय राष्ट्रीय राजनीति यूपीए के बिखराव की ओर था। कांग्रेस राज्य में सरकार बनाने के लिए विधानसभा चुनाव में उतरी है। मोदी ने एक तरह से कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए कहा कि जो देश में बिखर रहे, वो उत्तराखंड को नहीं निखार सकते।

भरपाई के लिए दोगुनी गति से मेहनत कर रहे हैं

प्रधानमंत्री ने कटाक्ष किया कि पूर्व सरकार में जो नुकसान हुआ उसकी भरपाई के लिए हमने दोगुनी गति से मेहनत की और आज भी कर रहे हैं। आज भारत, आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 100 लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश के इरादे से आगे बढ़ रहा है, आज भारत की नीति, गतिशक्ति की है, दोगुनी-तीन गुनी तेजी से काम करने की है।

उत्तराखंड का बहुमूल्य समय व्यर्थ किया  

उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार में देश और उत्तराखंड का 10 साल का बहुमूल्य समय व्यर्थ हुआ। तब परियोजनाएं सालों-साल अटकी रहती थीं। बगैर  तैयारी के फीता काट देने वाले तौर-तरीके थे। इन सबको पीछे छोड़ा गया। आज भारत नव-निर्माण में जुटा है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here