Unakoti | The Lost Hill of Faces | त्रिपुरा के इस मंदिर में हैं 99 लाख 99 हजार 999 मूर्तियां, जानिए एक करोड़ में एक मूर्ति कम होने का रहस्य

0
84
Unakoti-The-Lost-Hill-of-Faces-त्रिपुरा-के-इस

Unakoti, The Lost Hill of Faces, त्रिपुरा के इस मंदिर में हैं 99 लाख 99 हजार 999 मूर्तियां, जानिए एक करोड़ में एक मूर्ति कम होने का रहस्य 

भारत के कई स्थानों पर विभिन्न रहस्यमयी मंदिर हैं। जिनके राज आज तक राज बने हुए हैं। ऐसे मंदिरों के रहस्य को जानने के लिए अक्सर लोगों को उत्सुक देखा गया है। पर इसकी सच्चाई आज तक वैजानिक भी नहीं जान पाए हैं। ऐसे ही एक मंदिर के बारे में जान आप हैरान रह जाएंगे। इस मंदिर में देवी-देवताओं की 99 लाख 99 हजार 999 मूर्तियां हैं। यह मूर्ति की संख्या बताती है कि

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

यह भी पढ़ें: Kamalpur In Tripura, Kamalpur Travel Guide, पूर्वोत्तर भारत की खूबसूरत जगह कमलपुर

एक करोड़ में मात्र एक मूर्ति कम है। इस मंदिर को लेकर कई सारे रहस्य हैं जिसको जानने के लिए लोग उत्सुक होते हैं जिसमें सबसे बड़ा रहस्य है कि आखिर 1 करोड़ में एक मूर्ति कम क्यों है ? इससे जुड़ी कुछ कथाएं प्रचलित हैं पर वैज्ञानिक आज तक इससे पर्दा नहीं उठा पाए। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में उनाकोटी नामक मंदिर है। यह करीब 145 किलोमीटर दूर स्थित है। यह मंदिर भारत के सबसे बड़े रहस्यमयी मंदिरों में शुमार है।

यह है 99 लाख 99 हजार 999 मूर्तियों की वजह-  
माना जाता है कि एक बार भगवान शिव एक करोड़ देवी-देवताओं के साथ भ्रमण कर रहे थे। सभी देवी देवता बाद में सो गए। भगवान शिव जब सुबह उठे तो उन्हें सभी देवी-देवता सोते हुए मिले। क्रोधवश भगवान शिव ने सभी देवी-देवताओं को श्राप दे दिया और सभी देवी-देवता पत्थर के बन गए। 99 लाख 99 हजार 999 मूर्तियों की यही वजह बतायी जाती है।

इस रहस्य के लिए एक और कथा प्रचलित है। कथा अनुसार कालू नामक एक शिल्पकार था वह भगवान शिव और माता पार्वती के साथ कैलाश पर्वत जाना चाहता था। लेकिन यह हो पाना असंभव था। भगवान शिव ने उससे कहा कि अगर तुमने एक रात में 1 करोड़ देवी-देवताओं की मूर्ति बना ली तो वह  उसे अपने साथ ले जाएंगे। पर वह शिल्पकार एक करोड़ में सिर्फ एक मूर्ति कम बना पाया। इसकी वजह से  भगवान शिव शिल्पकार को अपने साथ लेकर नहीं गए। कहा जाता है कि इस वजह से इस स्थान का नाम ‘उनाकोटी’ रखा गया है। यह मंदिर आज तक रहस्य बना हुआ है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here