Uttarakhand Transport Corporation, उत्तराखंड परिवहन निगम: अब सीएनजी से चलेंगी रोडवेज की बसें, तैयारी तेज, टेंडर निकाला

0
58

Uttarakhand Transport Corporation, उत्तराखंड परिवहन निगम: अब सीएनजी से चलेंगी रोडवेज की बसें, तैयारी तेज, टेंडर निकाला

उत्तराखंड परिवहन निगम की बसें जल्द ही सीएनजी से चलेंगी। निगम ने इसके लिए टेंडर जारी कर दिया है। रोडवेज की 600 बसों को डीजल से सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा।

600 बसों को सीएनजी में संचालित किया जाएगा
दरअसल, परिवहन निगम ने बीते दिनों दिल्ली से कुछ बसें इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड से लीज पर ली थीं, जो कि सीएनजी से चलती हैं। यह दून-दिल्ली रूट पर संचालित हो रही हैं। इन बसों से डीजल वाहन के मुकाबले रोडवेज को खासी कमाई हो रही है। पिछले दिनों इसी आधार पर बोर्ड बैठक में फैसला लिया गया था कि परिवहन निगम की 600 बसों को सीएनजी में संचालित किया जाएगा। इसके साथ ही निगम जो करीब 300 अनुबंधित बसें अपने बेड़े में जोड़ेगा, वह भी सीएनजी से संचालित होंगी। इसके लिए निगम ने बाकायदा प्रोत्साहन की योजना भी बनाई है।

इसी कड़ी में परिवहन निगम ने अपनी बसों में सीएनजी किट लगाने के लिए टेंडर जारी कर दिया है। इसमें करीब 50 करोड़ रुपये का खर्च आने वाला है, जिसके लिए परिवहन निगम ने अपनी तैयारी कर ली है। निगम के मुताबिक, टेंडर निकलने के बाद सीएनजी में बसें परिवर्तित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

मुनाफे का सौदा है सीएनजी बस
जिस तरह से डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, उस हिसाब से परिवहन निगम कई रूटों पर काफी कम कमाई या घाटे में बसों का संचालन कर रहा है। सीएनजी किट लगाने के बाद इन बसों का खर्च कम और कमाई ज्यादा हो जाएगी। इसी आधार पर निगम ने सीएनजी बसें चलाने का निर्णय लिया है। निगम के जीएम संचालन दीपक जैन के मुताबिक, टेंडर निकाला जा चुका है। जल्द ही कार्रवाई आगे बढ़ेगी।

दून-दिल्ली के बीच 5 ढाबों पर रुकेंगी रोडवेज की बसें
देहरादून से दिल्ली के बीच रोडवेज की बसें केवल पांच ढाबों-रेस्टोरेंटों पर रुकेंगी। शुक्रवार को परिवहन निगम प्रबंधन ने इसका आदेश जारी कर दिया है। इससे इतर किसी भी ढाबे पर बस रोकी गई तो संबंधित ड्राइवर-कंडक्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। परिवहन निगम की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, देहरादून ग्रामीण, पर्वतीय, हरिद्वार डिपो, ऋषिकेश डिपो, रुड़की और श्रीनगर डिपो की बसें अब दून-दिल्ली के बीच पांच ढाबों पर रुकेंगी। ग्रामीण, पर्वतीय और रुड़की डिपो की दिल्ली जाने वाली बसें दीपमाला ढाबे पर रुकेंगी।

हरिद्वार डिपो की दिल्ली जाने वाली बसें और ग्रामीण, पर्वतीय, श्रीनगर की दिल्ली से दून आने वाली बसें केवल ए-वन प्लाजा टूरिस्ट ढाबे पर रोकी जाएंगी। ऋषिकेश और श्रीनगर डिपो की दिल्ली की ओर जाने वाली साधारण बसें, ऋषिकेश, श्रीनगर एवं रुड़की डिपो की दिल्ली से वापस आ रहीं साधारण बसें क्वालिटी कैफे पर रोकनी होंगी। इसी प्रकार, ग्रामीण, पर्वतीय, हरिद्वार, ऋषिकेश और कोटद्वार डिपो की दिल्ली की ओर जाने वाली बसें विकानो फूड कोर्ट रामपुर तिराहा पर रोकनी होंगी।

ग्रामीण, पर्वतीय, हरिद्वार, ऋषिकेश और कोटद्वार डिपो की दिल्ली से देहरादून, हरिद्वार और ऋषिकेश जाने वाली बसें फॉर्चुन ग्रांड यूनिट ऑफ बेन टैक्नोलॉजीज पर ही रुकेंगी। परिवहन निगम के मुताबिक, इन अधिकृत ढाबों के अलावा अगर ड्राइवर-कंडक्टर ने किसी अन्य ढाबे पर बस रोकी तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा निगम ने सभी मंडल प्रबंधकों को निर्देश दिए हैं कि वह अनुबंधित ढाबों का औचक निरीक्षण कर उत्पादों की गुणवत्ता और दामों की जानकारी जरूर लें।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here